जानिए क्रोना वायरस कहां से फैला और कैसे फैला इसका इलाज क्या है

By | February 5, 2020

यह वायरस बहुत ही खतरनाक और जानलेवा हो सकता है

और चीन के अंदर हुआन जगह पर सबसे पहले फैला था तथा इसका कोई भी इलाज नहीं है और डब्ल्यूएचओ ने इस रोग के लिए इमरजेंसी घोषित की है जिसके कारण चीन के अंदर 6000 से ज्यादा लोगों के अंदर यह रोग फैल चुका है और इसका कोई इलाज नहीं है

इसके अलावा दुनिया भर में यह लगभग करने लग गया है

इसके जरिए कहीं लोग मारे जा चुके हैं तथा यह लोग जिस भी व्यक्ति के अंदर होता है

उसको 4 से 5 दिन के अंदर मरना पड़ता है

क्योंकि यह इतना खतरनाक है कि लोग कहते हैं कि यह सांप के खाने से तथा चमगादड़ आदि से फैला था।

इस रोग के फैलने का कारण चीन का मीट बाजार था

जिसके अंदर जिंदा तथा मुर्दे जीवो को खाते हैं

लोग तथा लोग यहां तक कि खा जाते हैं

कि मछली मांस वह तो अलग है

चूहे कुत्ते, बिल्ली ,घोड़े ,गधे ,बकरी ,कीट, पतंग, चमगादड़ ,सांप ,सूअर आदि का मांस खाते हैं।

पर्यावरण कहता है कि प्रकृति की देन ही मानव है

तथा मानव की देन प्रकृति है लेकिन लोग समझते नहीं है

और प्रकृति को कारी नुकसान पहुंचा रहे हैं इस कारण प्रकृति अब लोगों से बदला ले रही है

और लोगों को भारी नुकसान पहुंचा रही है

क्योंकि पुराणों के अंदर कहा गया है कि जैसी करनी वैसी भरनी उसी के अनुसार चीन के अंदर हुआ है

और इस वायरस का अभी तक कोई भी इलाज नहीं मिला है वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन को भी इसका कोई इलाज नहीं मिला है

जिस कारण से बहुत ही तेजी से चीन के अंदर लोग मर रहे हैं

और जो इसका मुख्य कारण बताया जा रहा है मीट बाजार उसको अभी तक खोला नहीं गया है

और वह भी बंद है जिस कारण लोगों में थोड़ी बीमारी फैलने का चांस कम है

इस कारण लोग ज्यादा से ज्यादा अपने मुंह को ढक के रखें तथा

जिस किसी भी व्यक्ति को थोड़ा बुखार सिर दर्द तथा छाती दुख रही हो तो वह जल्द ही डॉक्टर के पास चले जाएं नहीं तो उसको भी यह रोग हो सकता है वैज्ञानिकों का कहना है।

इस रोग से बचने के उपाय:- अपने मुंह को ढक के रखें कथा अगर किसी व्यक्ति से आप हाथ मिलाते हैं

तो उसे धोने के बाद ही अपने मुंह के लगाएं नहीं तो कीटाणु आपके अंदर फैल सकते हैं ।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *